Bird Flu Alert: हिमाचल में बर्ड फ्लू को लेकर रैपिड एक्शन टीमें गठित

पत्रिका न्यूज, शिमला. हिमाचल प्रदेश में बर्ड फ्लू को लेकर पशुपालन विभाग ने अलर्ट जारी कर दिया है। प्रवासी पक्षी अब पौंग झील समेत गोविंदसागर डैम और सुखना झील की तरह लौट आए हैं जिसे देखकर पशुपालन विभाग सचेत हो गया है, क्योंकि इस मौसम परिंदों बर्ड फ्लू नामक बिमारी का सबसे ज्यादा ख़तरा रहता है। विभाग ने सोलन में रैपिड एक्शन टीमों का गठन कर प्रदेशभर में अलर्ट जारी कर दिया है।

पोल्ट्री फार्मों में भी अलर्ट

विभाग ने सोलन के पोल्ट्री फॉर्मों को अलर्ट किया है हालांकि बर्ड फ्लू का अभी तक कोई मामला सामने नहीं आया है। साथ लोगों से अपील करते हुए कहा कि यदि किसी पक्षी की प्राकृतिक रूप से मौत हो गई है तो इसकी सूचना पशु स्वास्थ्य विभाग में दें। ध्यान हो दो साल पहले सर्दियों में कांगड़ा जिले की पोंग झील में कई विदेशी पक्षियों की मौत हो गई थी। जिनमें जांच के बाद इंफ्लूएंजा वायरस (H5N1) वायरस की पुष्टि हुई थी।

स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक़ बीते वर्ष परिंदों संदिग्ध मौत बर्ड फ्लू के एन5एच1 वायरस से काफी घातक थी यह ना केवल पक्षियों बल्कि जानवरों और इंसानों के लिए भी घातक है।

यह भी पढ़ें: Himachal में जल्द बदलेगा मौसम, इस दिन से बरसात और बर्फबारी के आसार

पशुपालन विभाग सोलन के उपनिदेशक बीबी गुप्ता ने बताया कि हमनें जनपद में बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट कर दिया है। साथ ही खंड सहित जिला स्तर पर रैपिड एक्शन टीमें भी गठित की है।