Uttarakhand

Haldwani Violence: क्या सुनियोजित था हल्द्वानी हमला, जिलाधिकारी ने कही ये बात..

गुरुवार को हल्द्वानी के बनभूलपुरा में हुए हमले में 50 से अधिक पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। जिसके देखते हुए क्षेत्र में कर्फ्यू लगाया गया और दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश जारी किए गए। हिंसा पर जिलाधिकारी वंदना ने कहा कि हमारी तैयारी पूरी थी लेकिन जिस तरह हमला हुआ है उसे देखकर लगता है कि यह सुनियोजित और योजनाबद्ध तरीके से किया गया और इसकी तैयारी पहले से थी।

क्या है पूरा मामला

दरअसल हल्द्वानी के थाना बनभूलपुरा क्षेत्र में नगर निगम की टीम हारी पुलिस बल के साथ एक बगीचे में अवैध मदरसे और नमाज स्थल को जेसीबी से तोड़ने के लिए पहुंची। यह काम शुरू हुआ ही था कि महिलाओं और युवकों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया और पुलिस, प्रशासन और नगर निगम की टीम पर हमला कर पथराव शुरू कर दिया। जिससे एसडीएम सहित करीब 50 पुलिसकर्मी घायल हो गए। अधिकारियों ने लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन पथराव थमता ना देख पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े।

यह भी पढ़ें- Uttarakhand: विवाहित महिला से प्यार करने लगा शाहनवाज, मना करने पर महिला के घर में लगा ली फांसी

हल्द्वानी हमला के बाद कर्फ्यू

हालात को देखते हुए हल्द्वानी शहरी क्षेत्रों में रात्रि 9 बजे से कर्फ्यू लगा दिया गया और दंगाइयों को गोली मारने के निर्देश दिए गए हैं। आईजी नीलेश भरने ने बताया कि स्थिति को देखते हुए हल्द्वानी में कई जिलों की पुलिस फोर्स बुलाई गई है, साथ ही पैरामिलिट्री फोर्स को भी बुलाया गया है। हमले में कई महिला पुलिसकर्मी घायल हुए जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है।

सुनियोजित था हमला

अतिक्रमण हटाने के दौरान हुई हिंसा को लेकर हल्द्वानी जिलाधिकारी वंदना ने कहा कि जिस तरह से टीम पर हमला किया गया उससे लगता है कि इसकी तैयारी पहले से थी और हमला योजनाबद्ध और सुनियोजित तरीके से किया गया। पैट्रोल बम, पथराव करने से लेकर गोली तक चलाई गई जिसकी उम्मीद नहीं थी। हांलांकि ऐसी घटना के लिए तैयारियां पहले से की गई थी और यदि अधिक समय दिया जाता तो हालात ज्यादा खराब होती जिसका अंदाजा लगाना मुश्किल होता। इसीलिए शार्ट नोटिस दिया गया ताकि नुकसान को रोका जा सके।

6 लोगों की मौत

हिंसा के बाद सैकड़ों लोग घायल हैं जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया जबकि 6 लोगों के मौत की खबर है। हल्द्वानी में हिंसा भड़कने के बाद सुरक्षा लिहाज से पूरे क्षेत्र में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई। एसएसपी इस पूरे मामले की ब्रीफिंग कर रहे हैं और क्षेत्र के हर चौराहे व गली में पुलिस को तैनात किया गया है।

सीएम धामी ने दिए निर्देश

हल्द्वानी के बनभुलपुरा में हुई घटना पर उत्तराखंड सीएम पुष्कर धामी ने त्वरित संज्ञान लेते हुए प्रशासन को उपद्रवियों पर कठोर से कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि देवभूमि उत्तराखंड में कानून व्यवस्था बिगाड़ने वाले किसी दंगाई को बख्शा नहीं जाएगा।

Related Articles