Joshimath Land Subsidence. जोशीमठ में आई आपदा को लेकर भारतीय स्पेस एजेंसी इसरो ने एक सेटेलाइट से भू धंसाव की  तस्वीरें साझा की थी। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संस्थान (ISRO) की इन तस्वीरों को ड़ाॅ धन सिंह रावत के आग्रह पर हटाया गया है। धन सिंह का कहना है कि भू धंसाव की इन तस्वीरों से लोगों के दिलों में भय पैदा हो रहा है। जिसके बाद उन्होंने इसरो निदेशक तस्वीरें हटाने की बात कही।

बता दें धन सिंह रावत उत्तराखंड के स्वास्थ्य मंत्री हैं और उनका ध्यान इसरो की इन‌ भू धंसाव (Joshimath Land subsidence) वाली तस्वीरों पर गया तो उन्होंने इसरो की वेबसाइट से इन‌ तस्वीरों को वहां से हटाने या इन‌ तस्वीरों को लेकर कोई अधीकृत बयान जारी करने को कहा। वह इन‌ दिनों जोशीमठ में आई आपदा में कैंप कर रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: अगर टिहरी डैम टूटा तो महज़ 1 घंटे में डूब जाएगा हरिद्वार-ऋषिकेश समेत यूपी के ये शहर

सैटेलाइट से आई चोंकाने वाली तस्वीरें

इसरो ने शेयर की थी Joshimath भू धंसाव की तस्वीरें, उत्तराखंड के इस मंत्री ने हटवाई
Photo: इसरो ने शेयर की थी Joshimath भू धंसाव की तस्वीरें, उत्तराखंड के इस मंत्री ने हटवाई

इसरो (ISRO) ने जिन तस्वीरों को सांझा किया था वह चमोली जनपद की थी जहां से निरंतर चौंकाने वाली तस्वीरें सामने आ रही है। हाल ही में वाडिया हिमालय भूविज्ञान संस्थान ने सेटेलाइट अध्ययन में बताया था कि यहां जमीन खिसकने/धंसने की सालाना दर करीब 85 मिलीमीटर है। जो इस शहर के लिए खतरे की घंटी है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक अब यहां हैदराबाद ओपन रॉक संग्रहालय (National Geophysical Research Institute) Hyderabad की टीमें पहुंच गई है जो जोशीमठ में भू धंसाव (Land subsidence) के कारणों का पता लगाएगी।